महान धर्मनिरपेक्ष राजा छत्रपति शिवाजी जयंती उत्सव २०१५

कल महाराष्ट्रमें लोकप्रिय राजा छत्रपति शिवाजी जयंती उत्सव बड़े पैमाने पर मनाया गया. मनुवादी संघटनों की शिवाजी को हिन्दू राजा दिखाने की कड़ी कोशिश के बावजूद शिवाजी का धर्मनिरपेक्ष चेहरा मराठा सेवा संघ तथा संभाजी ब्रिगेड इन संघटनाओंने सामने लाया है, २० सालके जनप्रबोधन का असर अब दिखने लगा है. इस साल महाराष्ट्र के कई हिस्सोमे मुस्लिम समुदायने छत्रपति शिवाजी जयंती मनाई, इसमें मराठा सेवा संघ स्थापित छत्रपति शिवाजी मुस्लिम ब्रिगेड इस संघटन का बड़ा योगदान रहा.

गौरतलब बात यह है की छत्रपति शिवाजी का नाम लेकर राजनीती करने वाली शिवसेना इस बातसे बौखला गई है और उन्होंने अपने आकाओंके कहने पर इसमें विघ्न डालने की कोशिश शुरू कर दी है. मुस्लिम विरोध ही शिवसेना के राजनीती का मुख्य आधार रहा है, और जनप्रबोधन से घबरा कर अब वे जयंती कार्यक्रम में विघ्न डालने की कोशिश में लग गए है.

मराठा सेवा संघ के संस्थापक अध्यक्ष एड.पुरुषोत्तम खेडेकर इनके कड़े प्रयासोंके कारन महाराष्ट्र में यह सफल हुआ है, मराठा महाराष्ट्र का सबसे बड़ा जाती समूह है और इनमे प्रबोधन बढ़ने की वजह से अब महाराष्ट्र के जिन इलाको में मराठा सेवा संघ संभाजी ब्रिगेड कार्यरत है उन इलाको में धार्मिक दंगे बंद हो गए है और सांप्रदायिक ताकतों का कड़ा मुकाबला करने वाली युवा पीढ़ी तैयार हुई है. इन प्रयासोंको अब जल्द ही राष्ट्रिय स्तर पर लाया जाएगा.

 

One comment

  1. janbrabodhanachi ek lat ali pahije ani jastit jast marathe jagrut zale pahije. prabodhanachi survat Swarajyat kase jast Karun brahman drohi hote yapasun kele pahije jenekarun lok vichar kartil ani tyanna samjel kon khare shivpremi ani kon shivdrohi!! JAY JIJAU JAY SHIVRAY JAY BHIMRAY!!!

Leave a Reply